महाराष्ट्र में केवल एक गांव में 49 की मौत, 47 लापता, राज्य में अबतक 136 की गई जान

महाराष्ट्र में केवल एक गांव में 49 की मौत, 47 लापता, राज्य में अबतक 136 की गई जान

महाराष्ट्र : महाराष्ट्र में बारिश काल बनकर आई है और देखते ही देखते दर्जनों लोगों को अपनी चपेट में ले लिया। महाराष्ट्र के तटीय रायगढ़ जिले में तलाई गांव के नजदीक भूस्खलन होने के कारण अबतक 49 लोगों की मौत हो गई है। बाताया जा रहा है कि भूस्खलन की इस घटना में अब भी 47 लोग लापता हैं और 12 घायलों का अस्पताल में इलाज हो रहा है। मलबे में फंसे लोगों की जिंदगी को बचाने के लिए राहत और बचाव कार्य जारी है और माना जा रहा है कि मौत के आंकड़ों में अभी और इजाफा होगा। वहीं, पूरे महाराष्ट्र की बात करें तो बारिश की वजह से दो दिनों में अब तक 136 से अधिक लोगों की मौतें हो चुकी हैं।

पुलिस के मुताबिक, यह हादसा महाड तहसील के तलाई गांव में गुरुवार शाम को हुआ। इस हादसे में मृतकों की संख्या बढ़ सकती है। अधिकारी की मानें तो भूस्खलन वाली जगह से अब तक 49 शव बरामद किए गए हैं। राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ), स्थानीय आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ, पुलिस और जिला प्रशासन की टीमें राहत एवं बचाव अभियान में जुटी हुई हैं। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे आज दोपहर 12 बजे तलाई गांव का दौरा करेंगे और वहां हालात की समीक्षा करेंगे। 

जिलाधिकारी ने कहा, 'बाढ़ और कीचड़ के कारण घटनास्थल की ओर जाने वाले रास्ते अवरुद्ध हो गए थे, इसलिए राहत एवं बचाव दल को घटनास्थल तक पहुंचने में कठिनाई का सामना करना पड़ा। शुक्रवार सुबह राहत एवं बचाव अभियान दोबारा शुरू किया और अपराह्न तक शव बरामद किए गए। अधिकारियों के मुताबिक गांव में करीब 30 घर इस हादसे के कारण वे पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गए हैं। ग्रामीणों ने कहा कि उन्हें सरकार की ओर से कोई अलर्ट नहीं मिला है। इसी गांव के रहने वाले एक शख्स ने कहा कि ग्रामीणों को कोई अग्रिम आपदा अलर्ट नहीं दिया गया था। हमारे आदिवासी बस्ती में 120 से अधिक आबादी वाले 45 घर हैं। भूस्खलन में पहाड़ी से बोल्डर 100 फीट की ऊंचाई से गिरे। उनका अनुमान है कि मलबे के नीचे 90 ग्रामीण फंसे हो सकते हैं। इस बीच, महाराष्ट्र सरकार ने भूस्खलन में मरने वाले लोगों के परिजन को पांच-पांच लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की शुक्रवार को घोषणा की। 

फिलहाल, राज्य में लोगों को बारिश से कोई राहत मिलती नहीं नजर आ रही है क्योंकि भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने छह जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी किया है, जो पहले से बारिश से सराबोर हैं। आईएमडी ने ''अत्यधिक भारी बारिश का पूर्वानुमान व्यक्त किया है और एहतियाती उपायों की सिफारिश की है। अगले 24 घंटों के लिये तटीय कोंकण इलाके में रायगढ़, रत्नागिरी और सिंधुदुर्ग जिलों के साथ ही पश्चिमी महाराष्ट्र के पुणे, सतारा और कोल्हापुर जिलों में रेड अलर्ट जारी किया गया है।



लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay