सिक्यॉरिटी में सेंध : अमेरिका से मुंबई पहुंच गए कारतूस के साथ दो यात्री

सिक्यॉरिटी में सेंध : अमेरिका से मुंबई पहुंच गए कारतूस के साथ दो यात्री

मुंबई, 9/11 आतंकी हमले के बाद अमेरिका में एयरपोर्ट्स पर कड़े सुरक्षा प्रोटोकॉल बनाए गए हैं। इसके बावजूद सिक्यॉरिटी में सेंध का हैरान करने वाला मामला सामने आया है। तमाम सुरक्षा इंतजामों के बीच दो युवक तीन कारतूस लेकर अमेरिका से मुंबई पहुंच गए। हालांकि पता चला है कि युवकों ने गलती से बैग में कारतूस रखे थे लेकिन इस मामले ने सुरक्षा मानकों को लेकर सवाल जरूर खड़े कर दिए हैं।
अमेरिका के हार्ट्सफील्ड-जैक्सन अटलांटा इंटरनैशनल एयरपोर्ट से दो युवक मुंबई के लिए रवाना हुए। मुंबई एयरपोर्ट पर जब उनके बैगों की तलाशी हुई, तो इनमें यह कारतूस मिले। फौरन उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। एडवोकेट प्रभाकर त्रिपाठी और अवधेश दुबे ने एनबीटी को बताया कि प्रवीण कनकराज और शिब्बृ सदाशिवम नामक इन आरोपियों को अंधेरी कोर्ट ने सोमवार तक पुलिस कस्टडी में भेज दिया। दोनों ही आरोपी तमिलनाडु के मूल निवासी हैं। वे अमेरिका की एक यूनिवर्सिटी के छात्र हैं।
प्रभाकर त्रिपाठी के अनुसार, अमेरिका में 18 साल से ऊपर के लोगों को ओपन पे फाइरिंग क्लब में बतौर प्रैक्टिस या शौक के गोलियां चलाने की इजाजत है। इन दोनों युवकों ने भी करीब पांच महीने पहले अमेरिका में ऐसे ही एक क्लब में गोलियां चलाने के लिए कुछ कारतूस खरीदे। वहां बाकायदा गोलियां भी चलाईं। बाद में दोनों युवकों ने वहां यूज किए गए दो कारतूस और जिंदा कारतूस अपनी बैग में रख लिए और उस बात को ये लोग उसी वक्त भूल गए। जब भारत आने के लिए इन्होंने अपने बैग में सामान रखा, तो वे यह कारतूस निकालना भूल गए।


लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay