भाजपा को बहुमत मिलने के बाद राज्य की राजनीति गरमाई, बेलगाम में हारा राउत का अहंकार

भाजपा को बहुमत मिलने के बाद राज्य की राजनीति गरमाई, बेलगाम में हारा राउत का अहंकार

मुंबई : बेलगाम मनपा चुनाव में भाजपा को मिली भारी बहुमत के बाद महाराष्ट्र की राजनीति गरमा गई है। सत्तापक्ष और विपक्ष के बीच आरोप -प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। चुनाव नतीजे को लेकर शिवसेना सांसद संजय राउत द्वारा दिए गए बयान पर पूर्व मुख्यमंत्री और विपक्ष नेता देवेंद्र फड़नवीस ने पलटवार किया है। बुधवार को मीडिया से बातचीत करते हुए फड़नवीस ने राउत पर निशाना साधा, जिसमे उन्होंने कहा कि बेलगांव मनपा चुनाव में मराठी व्यक्ति को पराजित नहीं किया गया है। क्योंकि  मराठी व्यक्ति को हराना मुश्किल है। चुनाव में संजय राउत के अहंकार की हार हुई है। भाजपा के निर्वाचित सदस्यों में 15 से अधिक मराठी लोग हैं। इसलिए एक मराठी व्यक्ति की हार और एक पार्टी की हार में अंतर है, क्योंकि एक मराठी आदमी को हराया नहीं जा सकता। बेलगाम मनपा चुनाव में शिवसेना और उसके सांसद संजय राउत के अहंकार की हार हुई है।

आगामी होने वाले गोवा विधानसभा चुनाव में चुनाव प्रभारी नियुक्त होने पर विपक्ष नेता देवेंद्र फड़नवीस ने कहा कि मुझे विश्वास है कि गोवा में हमारे मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत की पूरी कैबिनेट ने जो काम किया है, उसके आधार पर जनता हमें एक बार फिर से चुनेगी। मैं पिछले चार चुनावों से गोवा जा रहा हूं और मैं गोवा से परिचित हूं। इस बार के गोवा चुनाव में मनोहर पर्रिकर हमारे साथ नहीं होंगे, लेकिन उन्होंने पार्टी को जो दिशा और विस्तार दिया है, उसके आधार पर जनता एक बार फिर भाजपा को ही चुनेगी। फड़नवीस ने कहा कि महाराष्ट्र हमेशा गोवा के पीछे खड़ा रहा है और राज्य में भाजपा गोवा चुनाव में सक्रिय रही है। इसलिए, उन्हें राज्य में भाजपा से हर संभव मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि चुनाव में  'हमें गृहमंत्री अमित शाह, राजनाथ सिंह और नितिन गडकरी से पूरी मदद मिलेगी। इसके साथ -साथ हमारे साथ दो केंद्रीय राज्य मंत्री को सहप्रभारी नियुक्त किया गया है,  इसलिए हम गोवा में भाजपा  सरकार को वापस लाने की पूरी कोशिश करेंगे

 सिंधुदुर्ग स्थित  हवाई अड्डे के उद्घाटन को लेकर सत्तापक्ष और विपक्ष के बीच शुरू विवाद पर बोलते हुए देवेंद्र फड़नवीस ने कहा कि चिपि  हवाई अड्डे के निर्माण में केंद्रीय मंत्री नारायण राणे का बड़ा योगदान है इससे कोई इनकार नहीं कर सकता।  उनकी पहल से काम शुरू हुआ और मेरे  मुख्यमंत्री रहते हुए ही  हवाई अड्डे का कार्य पूरा हो चूका था । अब जब हवाई अड्डा शुरू हो रहा है तो बिना विवाद पैदा किए कोंकण और पर्यटको  के लिए हवाई अड्डा शुरू करना जरूरी है। राणे और केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को इसके लिए बधाई देनी चाहिए। फड़नवीस ने कहा कि राज्य और केंद्र को समन्वय से काम करना होगा। हवाई अड्डे के श्रेय लेने की कोई लड़ाई नहीं है लेकिन हवाई अड्डे के निर्माण में राणे के योगदान से कोई इनकार नहीं कर सकता।



लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay