८८ माध्यमिक विद्यालय खुले, ग्रामीण भागों में बजने लगी स्कूलाें की घंटियां!

८८ माध्यमिक विद्यालय खुले, ग्रामीण भागों में बजने लगी स्कूलाें की घंटियां!

ठाणे,  ठाणे जिले के कोरोना मुक्त गांवों के स्कूलों की घंटियां बजने लगी हैं। कई गांवों में मिडिल स्कूल खुल चुके हैं तथा अन्य कई गांवों में उन्हें खोलने के लिए जिला प्रशासन द्वारा जोरदार तैयारियां की जा रही हैं। जिला प्रशासन तथा पालकों की सहमति से अब तक ८८ माध्यमिक स्तर के स्कूलों को खोला जा चुका है। अतिरिक्त सावधानी बरतते हुए चरणबद्ध तरीके से अन्य स्कूलोेंं को भी खोले जाने की योजना पर काम किया जा रहा है। यह जानकारी ठाणे जिला परिषद माध्यमिक शिक्षण विभाग द्वारा दी गई है।
ठाणे जिले के शहर तथा ग्रामीण भागों में कोरोना संक्रमण के मामले कम होते जा रहे हैं। कोरोना मुक्त गांवों में अतिरिक्त सावधानी बरतते हुए ८वीं से लेकर १२वीं तक के विद्यालयों को शुरू करने का निर्देश शासन द्वारा दिया गया है। इस लिहाज से जिला प्रशासन विद्यालयों को खोलने की तैयारियों में जुट गया है। जिले में इस समय ३९२ गांव कोरोना मुक्त घोषित किए जा चुके हैं। कोरोना मुक्त गांवों में चरणबद्ध तरीके से माध्यमिक विद्यालयों को खोलने पर जोर दिया जा रहा है। जिले के ग्रामीण भागों में निजी तथा जिला परिषद के कुल ३८५ माध्यमिक विद्यालय हैं। १९ जुलाई को पहले चरण में १४ तथा दूसरे चरण में २२ विद्यालयों को खोला गया था। अब खोले जा चुके कुल विद्यालयों की संख्या बढ़कर ८८ हो गई है। इनमें से सबसे ज्यादा ५३ माध्यमिक विद्यालय शहापुर तालुका में खोले गए हैं, वहीं कल्याण में सबसे कम ३, मुरबाड में ११, भिवंडी में ११ तथा अंबरनाथ में १० माध्यमिक विद्यालयों के खोले जाने की जानकारी मिली है। जिला माध्यमिक शिक्षण अधिकारी शेष राव बड़े ने बताया कि जिले में कोरोना मुक्त गांवों की संख्या सबसे अधिक है। गांव के सरपंच समिति तथा विद्यार्थियों के पालकों की सहमति से चरणबद्ध तरीके से माध्यमिक विद्यालयों को खोला जा रहा है।






लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay