कोरोना नियमावली का उल्लंधन करना भारी पड़ सकता है, नजर रखेंगे ड्रोन!

कोरोना नियमावली का उल्लंधन करना भारी पड़ सकता है, नजर रखेंगे ड्रोन!

ठाणे, नवरात्रि के दौरान कोरोना नियमावली का उल्लंधन करना भारी पड़ सकता है। भीड़ से कोरोना संक्रमण न पैâले इसलिए सरकार ने नवरात्रोत्सव के दौरान गरबा-डांडिया खेलने पर पाबंदी लगाई है। पाबंदी के बावजूद यदि कोई चोरी-छिपे कहीं पर गरबा खेलता है या इमारतों की छतों पर गरबा आयोजित किया जाता है, तो ऐसे लोग पुलिस की निगाहों से बच नहीं पाएंगे क्योंकि इन पर नजर रखने के लिए ठाणे पुलिस ने ड्रोन की मदद लेने का निर्णय लिया है।
नवरात्रोत्सव में गरबा-डांडिया को लेकर कोरोनाकाल में राज्य सरकार की ओर से पाबंदी लगाई गई है, जिसका उल्लंघन करनेवालों पर मुंबई पुलिस की भी पैनी नजर रहेगी। नवरात्रोत्सव के दौरान चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात होगी और नियमों का उल्लंघन करनेवालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगी। मुंबई पुलिस प्रवक्ता एस. चैतन्य ने बताया कि कोरोनाकाल में जमावबंदी लागू की गई है। इस दौरान कहीं पर भी समूह में जमा होने की अनुमति नहीं है। प्रशासन नवरात्रोत्सव को लेकर काफी पहले ही नियामवली जारी कर चुका है, जिसका सभी को पालन करना होगा।
ठाणे पुलिस आयुक्त जयजीत सिंह ने बताया कि पुलिस ने सार्वजनिक व निजी सोसायटियों को नोटिस देकर गरबा न खेलने और नियमों का उचित पालन करने की अपील की है। नियमों का उल्लंघन करनेवालों के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी। कोरोना की संभावित तीसरी लहर का खतरा अभी टला नहीं है। राज्य सरकार ने नागरिकों की सुरक्षा को ध्यान में रखकर नवरात्रोत्सव के दौरान गरबा और डांडिया पर पाबंदी लगा दी है। पुलिस को अंदेशा है कि पाबंदी के बावजूद कुछ लोग नियमों को तोड़ने की कोशिश जरूर करेंगे इसलिए ठाणे पुलिस उन पर नजर रखने और कार्रवाई करने के लिए तैयार हो चुकी है। इसी के तहत ठाणे पुलिस आयुक्तालय के अंतर्गत आनेवाले सभी ३६ पुलिस स्टेशनों द्वारा सार्वजनिक मंडलों और निजी सोसायटियों की बैठक लेकर उन्हें कोरोना नियंत्रण के नियमों से अवगत करा दिया गया है। इसके बावजूद भी यदि कोई नियमों का उल्लंघन करते हुए पाया जाता है तो उस पर कार्रवाई की जाएगी।



लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay