मुंबई : मंत्री नवाब मलिक ने लगाया एनसीबी पर आरोप

मुंबई : मंत्री नवाब मलिक ने लगाया एनसीबी पर आरोप


मुंबई : राकांपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता और अल्पसंख्यक विभाग के मंत्री नवाब मलिक ने नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) के एक क्रूज पर मारे गए छापे पर सवालिया निशान लगाए हैं। उन्होंने कहा कि इस मामले में गिरफ्तार किए गए फिल्म अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को ले जाते हुए केपी गोसावी और अरबाज मर्चेंट को लेकर जाते हुए मनीष भानुशाली के फोटो वायरल हो रहे हैं, उनका एनसीबी से क्या संबंध है? मलिक ने कहा कि मनीष भानुशाली भाजपा का उपाध्यक्ष है और वह एनसीबी अधिकारी नहीं है। मलिक ने कहा कि आर्यन खान मामले में किसी भी प्रकार का ड्रग्स मिला ही नहीं है। उन्होंने कहा कि भाजपा बॉलीवुड और राज्य सरकार को बदनाम करने का हर संभव प्रयास कर रही है। इधर मलिक के आरोपों पर एनसीबी का कहना है कि पूरी कार्रवाई कानून के मुताबिक हुई है, जिस किसी को आपत्ति है, वह इसे लेकर अदालत जा सकता है।
मलिक ने कहा कि एनसीबी को यह बताना चाहिए कि आखिर उनका और भानुशाली का क्या संबंध है? मलिक ने कहा कि कुछ फोटो एनसीबी द्वारा जारी किए गए थे, जिसमें कुछ ड्रग्स दिखाए गए थे,लेकिन यह फोटो दिल्ली एनसीबी की तरफ से दिखाई गई थी। यह फोटो जोनल डायरेक्टर ऑफिस की है। आखिर केपी गोसावी का जोनल डायरेक्टर के साथ क्या संबंध है? एनसीपी को इस बात का उत्तर देना चाहिए। आखिर दो निजी व्यक्तियों ने यह कार्रवाई कैसे की? उन्हें किसने यह अधिकार दिया? मलिक ने आरोप लगाया कि भाजपा, बॉलीवुड और राज्य सरकार को बदनाम कर रही है। 21 सितंबर को मनीष भानुशाली दिल्ली में कुछ मंत्रियों के घर पर थे और उसके बाद 22 तारीख को गांधीनगर में। 21 और 22 तारीख को ही गुजरात के बंदरगाह पर भारी मात्रा में ड्रग्स बरामद किया गया था। ऐसे में वह 28 तारीख तक गुजरात में क्या कर रहा था और किन-किन मंत्रियों से मिले। इसका उत्तर एनसीबी को देना चाहिए।
क्रूज के सीसीटीवी खंगालेंगे: मुंबई पुलिस
क्रूज ड्रग्स बरामदगी मामले की जांच के लिए मुंबई पुलिस संबंधित क्रूज पर लगे सीसीटीवी की जांच करेगी। मुंबई पुलिस आयुक्त हेमंत नागराले ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि डीजी शिपिंग से भी जानकारी के लिए संपर्क किया गया है। नियमों का उल्लंघन सामने आया तो एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।



लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay