एनसीपी नेता नवाब मलिक का NCB पर बड़ा हमला, कहा-ये महाराष्ट्र सरकार और बॉलीवुड को बदनाम करने की साजिश है

एनसीपी नेता नवाब मलिक का NCB पर बड़ा हमला, कहा-ये महाराष्ट्र सरकार और बॉलीवुड को बदनाम करने की साजिश है

मुंबई : मुंबई में क्रूज शिप पर छापेमारी और ड्रग्स की बरामदगी के साथ ही अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान की गिरफ्तारी के बाद से ही यह मामला सुर्खियों में है। महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक ने एनसीबी पर अब गंभीर आरोप लगाए हैं। एनसीबी को निशाने पर लेते हुए नवाब मलिक ने कहा कि, महाराष्ट्र सरकार और फिल्म उद्योग को बदनाम करने की साजिश है। गुरुवार को मीडिया से बात करते हुए एनसीपी नेता और राज्य मंत्री नवाब मलिक ने कहा कि, महाराष्ट्र सरकार और फिल्म उद्योग को बदनाम करने की साजिश। चाहे रिया चक्रवर्ती हों या आर्यन खान, दीपिका पादुकोण हो या फिर भारती सिंह। उन्हें प्रचार के लिए गिरफ्तार किया गया था और यह जालसाजी थी। हम एनसीबी द्वारा मुंबई और फिल्म इंडस्ट्री चलाए जा रहे जबरन वसूली सांठगांठ का पर्दाफाश करेंगे।नवाब मलिक ने कहा कि, एनसीबी प्राइवेट लोगों को हायर कर रही है। प्राइवेट डिटेक्टिव की मदद से लोगों के अंदर डर पैदा किया जा रहा है। इन लोगों की मदद से एनसीबी बड़े पैमाने पर धन की उगाही कर रही है। लोगों को बदनामी करने के नाम पर डराया जा रहा है। एनसीबी मुंबई में बीजेपी नेताओं की मदद से उगाही का धंधा चला रही है। हमने हाल में कुछ सबूत पेश किए हैं। जल्द ही और सबूत जारी कर उनका पर्दाफाश करेंगे।इससे पहले नवाब मलिक ने कहा था कि, इस एजेंसी का गठन नशा मुक्ति के लिए किया गया था लेकिन यह लोगों को चुन-चुन कर निशाना बना रही है। ये बॉलीवुड को बदनाम करने के लिए किया जा रहा है। एनसीबी की इस कार्रवाई में बीजेपी का हाथ है और ये गिरफ्तारी पूरी तरह से राजनीति से प्रेरित है।नवाब मलिक ने कहा कि आर्यन खान को एनसीबी के पास लाने वाले और सेल्फी लेने वाले केपी गोसावी और मनीष भानुषाली बीजेपी से जुड़े हैं।चार्टर्ड विमान से आने वाले विदेशियों के लिए 15 अक्टूबर से टूरिस्ट वीजा: गृह मंत्रालयउधर महाराष्ट्र कांग्रेस ने नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) मुंबई पर 2 अक्टूबर को एक लक्जरी जहाज पर छापेमारी करते हुए एनडीपीएस अधिनियम के नियमों का कथित रूप से उल्लंघन करने का आरोप लगाया है और एजेंसी के अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।


लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay