भाजपा नेता नितिन गडकरी चाहते थे फडणवीस को सबक सिखाना, महाराष्ट्र के मंत्री के दावे को केंद्रीय मंत्री ने किया खारिज

भाजपा नेता नितिन गडकरी चाहते थे फडणवीस को सबक सिखाना, महाराष्ट्र के मंत्री के दावे को केंद्रीय मंत्री ने किया खारिज

महाराष्ट्र : महाराष्ट्र के मंत्री विजय वडेत्तीवार ने नांदेड़ की उपचुनाव रैली में दावा किया कि वरिष्ठ भाजपा नेता नितिन गडकरी अपने सहयोगी देवेंद्र फडणवीस को सबक सिखाना चाहते थे। मंत्री के बयान का गडकरी ने खंडन किया और कहा कि उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री के खिलाफ कभी कुछ नहीं कहा।
वडेत्तीवार ने नांदेड़ जिले के देगलुर विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी जितेश अंतापुरकर के पक्ष में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए यह बात कही। उन्होंने कहा कि नागपुर के लोग जानते हैं कि शहर के दो बड़े नेता हैं गडकरी व फडणवीस और दोनों की पटती नहीं है। मंत्री वडेत्तीवार ने दावा किया, 'एक बैठक के दौरान गडकरी ने उन्हें कान में कहा था कि वह 'उसे' सबक सिखाना चाहते हैं, और उन्होंने सबक सीखा दिया।' हालांकि वडेत्तीवार ने यह नहीं कहा कि आखिर जिसे सबक सिखाना था, वह कौन था।'
मेरे छोटे भाई जैसे हैं फडणवीस : गडकरी
उधर, नागपुर में गडकरी ने अपने निजी सहायक के जरिए बयान में कहा कि उन्होंने फडणवीस के खिलाफ कभी कुछ नहीं कहा। बयान में गडकरी ने कहा, 'मैंने विजय वडेत्तीवार को गोपनीय ढंग से कुछ नहीं कहा। उन्हें ऐसे गैर जिम्मेदाराना, आधारहीन, झूठे और शरारतपूर्ण राजनीतिक बयान नहीं देना चाहिए। देवेंद्र फडणवीस मेरे छोटे भाई जैसे हैं। इसके अलावा वह मेरी पार्टी के महत्वपूर्ण नेता हैं। एक-दूसरे के खिलाफ बोलना कांग्रेस की संस्कृति है।' केंद्रीय मंत्री गडकरी ने कहा कि फडणवीस के कार्यकाल में महाराष्ट्र में प्रगति हुई और वह अब राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता के रूप में उत्कृष्ट कार्य कर रहे हैं।
अब नांदेड़ की सड़कें बेहतर हो जाएंगी
गुरुवार को वडेत्तीवार ने सभा में कहा कि अब नांदेड की सड़कें बेहतर हो जाएंगी, क्योंकि लोक निर्माण मंत्री अशोक चव्हाण यहीं के हैं। कुछ दिनों पूर्व चव्हाण की केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से चर्चा हुई है, ताकि महाराष्ट्र के प्रोजेक्ट के लिए पैसा मिल सके।



लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay