समीर वानखेड़े की भाजपा नेताओं से सांठगांठ का पर्दाफाश करूंगाः नवाब मलिक

समीर वानखेड़े की भाजपा नेताओं से सांठगांठ का पर्दाफाश करूंगाः नवाब मलिक

मुंबई : राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के राष्ट्रीय प्रवक्ता व महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने शुक्रवार को भी एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े पर अपने आरोपों का सिलसिला जारी रखा। उन्होंने अपने आरोपों में सीधे भाजपा को भी शामिल करते हुए कहा कि विधानमंडल के शीतकालीन सत्र में वह वानखेड़े की भाजपा नेताओं के साथ सांठगांठ का सबूतों के साथ पर्दाफाश करेंगे, तब भाजपा कहीं मुंह दिखलाने लायक भी नहीं रहेगी। गुरुवार को शाह रुख खान के पुत्र आर्यन खान को मुंबई उच्च न्यायालय से जमानत मिलने के बाद नवाब मलिक ने ट्वीट किया था कि पिक्चर अभी बाकी है मेरे यार। अपनी ही बात को आगे बढ़ाते हुए नवाब ने कहा कि यह मामला आर्यन की जमानत के साथ खत्म नहीं होता। यह मामला तो समीर वानखेड़े की नौकरी जाने व फर्जीवाड़े में उन पर होने वाली कानूनी कार्रवाई के साथ खत्म होगा।
मलिक ने कहा कि यदि ठीक से तथ्य रखे जाएं तो आर्यन खान का मामला तो उच्च न्यायालय अपने आप रद कर देगा, लेकिन एनसीबी को उन सभी मामलों की गहराई से जांच करनी चाहिए, जिनमें समीर वानखेड़े ने लोगों को जबरन जेल में रखा। कुछ दिन पहले संजय राउत ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा था कि नवाब मलिक ने इंटरवल तक की फिल्म दिखा दी है। इसके बाद की फिल्म मैं दिखाऊंगा। इस संबंध में पूछे जाने पर मलिक ने कहा कि आर्यन खान की जमानत के साथ इस पिक्चर का इंटरवल हुआ है। आगे की फिल्म भी मैं ही दिखाऊंगा। अभी मेरे पास बहुत कुछ है। हम दोनों (नवाब और संजय राउत) सलीम-जावेद की तरह इस फिल्म को आगे बढ़ाएंगे।
मलिक ने भी कार्डेलिया क्रूज पर दाढ़ी वाले का जिक्र करते हुए कहा कि काशिफ खान नामक वह व्यक्ति न सिर्फ नशीले पदार्थों के कारोबार के लिए जाना जाता है, बल्कि वह कई रैकेट भी चलाता है। उसी ने कार्डेलिया क्रूज पर दो अक्तूबर को पार्टी का आयोजन किया था। चूंकि वह एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े का बहुत पुराना परिचित है, इसलिए उसे गिरफ्तार नहीं किया गया। नवाब के अनुसार, एनसीबी के ही एक अधिकारी ने उन्हें बताया है कि उसने जब-जब काशिफ खान पर कार्रवाई की कोशिश की, समीर वानखेड़े ने उसे मना कर दिया। नवाब मलिक ने दावा किया कि इस तरह के और कई मामले भविष्य में सामने आएंगे। नवाब मलिक ने फैशन टीवी के भारत प्रमुख काशिफ खान की गिरफ्तारी की भी मांग की। काशिफ खान से समीर वानखेड़े के संबंधों के दावे का वानखेड़े व काशिफ दोनों ने खंडन किया है। वानखेड़े ने नवाब मलिक के दावे को झूठ करार देते हुए कहा कि वह इस संबंध में कुछ नहीं कहेंगे। कानून अपना काम करेगा। जबकि काशिफ ने भी कहा कि वह न तो समीर वानखेड़े को जानता है, न ही कभी उनसे मिला है। उसके अनुसार वह दो अक्तूबर को खुद टिकट लेकर क्रूज पर गया था, वहां किए गए सारे खर्चों की रसीदें उसके पास हैं। उसने नवाब मलिक पर कोई कानूनी कार्रवाई करने से भी यह कहते हुए इन्कार कर दिया कि वह बहुत बड़े मिनिस्टर हैं, मैं व्यापारी हूं। मैं अपना समय किसी सकारात्मक काम में लगाऊंगा।
नवाब मलिक ने कहा कि कल से अचानक परिस्थितियां बदल गई हैं। जो व्यक्ति तीन अक्तूबर को आर्यन खान को खींचकर ले जाता दिखाई दे रहा था, वह आज खुद पुलिस की गिरफ्त में है। और जो अधिकारी कल तक आर्यन खान की जमानत नहीं होने दे रहा था, और खुद अपने लिए मुंबई पुलिस से सुरक्षा मांग रहा था, आज वहीं उच्च न्यायालय जाकर मुंबई पुलिस की गिरफ्तारी से बचने की कोशिश कर रहा है। समीर वानखेड़े की पत्नी क्रांति रेडकर की ओर से आ रहे बयान पर भी नवाब मलिक आज सफाई देते नजर आए। उन्होंने कहा कि समीर की पहली पत्नी की तस्वीर उन्हें रात में दो बजे किसी ने यह कहते हुए भेजी थी कि वह इसे सार्वजनिक कर सकते हैं। लेकिन उनकी दूसरी पत्नी के बारे में उन्होंने कभी कुछ नहीं कहा है। क्रांति रेडकर द्वारा खुद को मराठी लड़की बताते हुए मुख्यमंत्री को लिखे गए पत्र पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए मलिक ने कहा कि यदि वह मराठी लड़की हैं, तो नवाब मलिक भी वर्षों से मुंबई में रह रहे हैं। वह मराठी नहीं हैं क्या?


लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay