पटरियों पर की आतिशबाजी, आरपीएफ ने किया लोगों को अलर्ट

पटरियों पर की आतिशबाजी, आरपीएफ ने किया लोगों को अलर्ट

मुंबई : दिवाली के दौरान कई बार पटरियों पर और उसके किनारे आतिशबाजी के कारण पास से गुजरनेवाली ट्रेनों को नुकसान होता है। कई बार लोकल ट्रेनों के गेट पर खड़े यात्रियों को भी इस आतिशबाजी से परेशानी होती है। अब पटरियों के आसपास आतिशबाजी करनेवालों के ऊपर आसमान से ड्रोन नजर रखेंगे। साथ ही आयपीएफ बस्तियों में लोगों से अपील कर रही है कि वे अपने आसपास और रेल परिसर का ध्यान रखें।
मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी शिवाजी सुतार ने बताया कि इसके लिए आरपीएफ की विशेष टीमें बनाई गई हैं। पूर्व में जिन इलाकों में आतिशबाजी के कारण नुकसान हुआ है, वहां खासतौर पर आरपीएफ सक्रिय है। इसके अलावा पटरियों के किनारों पड़े कचरे के ढेर भी हटाए जा रहे हैं। कई बार आतिशबाजी में इन कचरे के ढेर में आग लग जाती है, जिससे ट्रेनों का परिचालन प्रभावित होता है। आधुनिक तकनीक से लैस नए ड्रोन पटरियों और रेलवे परिसरों में खास नजर बनाए रखेंगे। सुतार ने बताया कि रेलवे यार्ड हों या स्टेशनों से कुछ दूरी पर निगरानी रखने के लिए ड्रोन का इस्तेमाल होने लगा है। आरपीएफ के कुछ कर्मचारियों को इसकी खास ट्रेनिंग दी गई है। खास मौकों पर निगरानी रखने के लिए अब ड्रोन का इस्तेमाल ज्यादा होने लगा है। कहीं एक जमा भीड़ को ट्रैक करने के लिए भी ड्रोन कारगर सिद्ध हुआ है। लोकल में पटाखे ले जाना बैन है। पर दिवाली के दौरान कई लोग लोकल ट्रेनों में पटाखे ले जाते हैं। दो दिन पहले ही डोंबिवली स्टेशन पर एक व्यक्ति को पकड़ा गया, उसके थैले में रेलवे द्वारा करीब ३०,००० रुपए के पटाखे जब्त किए गए।



लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay