क्रूज डग्स केस: एनसीबी के सामने पेश हुआ प्रभाकर सेल, एनसीबी के गवाह किरण गोसावी आज भी पुलिस की हिरासत में रहेगा

क्रूज डग्स केस: एनसीबी के सामने पेश हुआ प्रभाकर सेल, एनसीबी के गवाह किरण गोसावी आज भी पुलिस की हिरासत में रहेगा

मुंबई : मुंबई क्रूज ड्रग्स मामले मे एनसीबी के गवाह किरण गोसावी की पुणे कोर्ट ने हिरासत की अवधि का एक और दिन बढ़ा दिया है, यानी की आज भी गोसावी को पुलिस हिरासत में ही रहना होगा। शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान से जुड़े ड्रग्स केस मामले के गवाह किरण गोसावी को धोखाधड़ी के मामले में पुणे कोर्ट ने 8 नवंबर तक पुलिस हिरासत में रखने का आदेश सुनाया था, लेकिन अब गोसावी की मुश्किलें बढ़ती हुई नजर आ रही है।
किरण गोसावी को 28 अक्तूबर को गिरफ्तार किया गया था और कोर्ट ने उसे आठ नवंबर तक पुलिस हिरासत में भेजा था। लेकिन अब गोसावी की हिरासत अवधि बढ़ा दी गई है। गोसावी पर आरोप है कि उसने कुछ लोगों को विदेश में नौकरी दिलाने के बहाने ठगी की है। आरोप है कि गोसावी ने तीन लोगों को मलेशिया में नौकरी दिलाने का वादा करके उनसे चार लाख रुपये लिए थे, लेकिन वो अपने इस वादे को पूरा नहीं कर पाया और लोगों को नौकरी दिलाने में असफल रहा।
एक तरफ जहां किरण गोसावी की हिरासत की अवधि बढ़ी तो वहीं दूसरी तरफ मुंबई क्रूज ड्रग्स मामले में एनसीबी के गवाह प्रभाकर सेल भी मुंबई में एनसीबी की सतर्कता टीम के सामने सोमवार को  पूछताछ के लिए पेश हुआ। प्रभाकर सेल से ये पूछताछ दोपहर 2 बजे शुरू हुई और करीब 9 से 10 घंटे तक ये पूछताछ चली। एनसीबी के उप महानिर्देशक ज्ञानेश्वर सिंह टीम का नेतृत्व कर रहे हैं।
किरण गोसावी का नाम क्रूज ड्रग मामले के बाद तब सामने आया जब उसने शाहरुख खान के बेटे आर्यन के साथ अपनी तस्वीर सोशल मीडिया पर पोस्ट की थी। उसकी ये तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुई थी। उस समय कई लोगों का लगा था कि वह एनसीबी का अधिकारी है। बाद में एनसीबी ने साफ किया कि वह एक निजी जासूस और एक प्लेसमेंट एजेंसी का मालिक है और क्रूज मामले में 10 स्वतंत्र गवाहों में से एक है। गोसावी का नाम उन लोगों में शुमार है जिसे मुंबई में एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेडे के खिलाफ कथित भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच में बयान दर्ज करने के लिए तलब किया गया था।


लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay