मुंबई में आग की बढ़ती घटनाओं के लिए नगरसेवकों ने फायर ब्रिगेड को ठहराया जिम्मेदार

मुंबई में आग की बढ़ती घटनाओं के लिए नगरसेवकों ने फायर ब्रिगेड को ठहराया जिम्मेदार

मुंबई : महानगर की हाइराइज इमारतों सहित अन्य जगहों पर आग की घटनाओं में वृद्धि हुई है, जिसमें कई लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि कई लोग झुलस गए। नगरसेवकों ने इसके लिए मुंबई फायर ब्रिगेड को जिम्मेदार ठहराया है। बीएमसी की स्थायी समिति में भाजपा नगरसेवक कमलेश यादव ने आरोप लगाया कि फायर ब्रिगेड की तरफ से नामित की गई एजेंसी इमारतों की बिना जांच किए 10 हजार से 20 हजार रुपये में एनओसी दे रही हैं।
बता दें कि पिछले 15 दिनों के भीतर हाइराइज इमारतों में हुए दो हादसे में तीन लोगों की जान चली गई है, जिसके बाद फायर ब्रिगेड की कार्यप्रणाली पर बहस शुरू हो गई है। बीएमसी में नेता विपक्ष रवि राजा ने कहा कि मुंबई में लगातार आग की घटनाएं सामने आ रही हैं, जिसमें कहीं न कहीं फायर ब्रिगेड की गलती सामने आ रही है। कुछ लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई कर इस पर अंकुश लगाया जा सकता है।
रवि राजा ने कहा कि मुंबई की केवल हाइराइज ही नहीं, बल्कि सभी इमारतों में फायर सिस्टम का हाल बुरा है। फायर ब्रिगेड ने इमारतों में फायर सुरक्षा की जांच कर उसमें फायर सिस्टम को लगाने, सही करने के लिए एजेंसियों को ठेका दिया है। एजेंसी के लोग इमारतों में जांच किए बिना ही फॉर्म बी भरा कर सर्टिफिकेट दे देते हैं। स्थायी समिति में सदस्यों ने फायर ब्रिगेड की तरफ से जांच के लिए नियुक्त एजेंसियों पर सवाल उठाए हैं।


लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay