मुंबई : नए वार्डों के लिए परिसीमन की तैयारी में जुट गई मनपा

मुंबई : नए वार्डों के लिए परिसीमन की तैयारी में जुट गई मनपा

मुंबई : मनपा में वार्डों की संख्या २३६ करने के राज्य सरकार के निर्णय का जनता भी जमकर स्वागत कर रही है, तो वहीं भाजपा को छोड़कर बाकी सभी दल लगभग इसके समर्थन में हैं। सभी का मानना है कि इससे मुंबई की जनता को मनपा की ओर से बेहतर सुविधा प्रदान करने में मदद मिलेगी। उधर मनपा में नए वार्डों के लिए परिसीमन की तैयारी में मनपा जुट गई है। मनपा को राज्य सरकार के अध्यादेश का इंतजार है।
इस निर्णय को लेकर मनपा स्थायी समिति के अध्यक्ष यशवंत जाधव ने खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार ने मुंबई के हित में निर्णय लिया है, वहीं विपक्ष के नेता रवि राजा ने भी इसका स्वागत किया है। तो अतिरिक्त मनपा आयुक्त सुरेश काकाणी ने कहा कि राज्य सरकार के निर्णय के बाद हम अध्यादेश की प्रति का इंतजार कर रहे हैं। चुनाव आयोग की तरफ से जो भी आदेश होगा, उसका पालन होगा।
जसप्रीत सिंह ने माना कि सरकार के इस निर्णय से अंधेरी वेस्ट के इलाके में वार्डों की संख्या बढ़ेगी। इससे विकास को नई दिशा मिलेगी और जनता की दशा में सुधार होगा।
मनपा अधिकारियों के अनुसार एल, पी, एस, के-वेस्ट, एम-ई जैसे अधिक आबादी वाले ९ प्रभागों में वार्डों की संख्या बढ़ाई जाएगी। इन वार्डों में वर्ष २०११ के जनगणना के अनुसार आबादी में काफी इजाफा हुआ है। पश्चिमी उपनगर में ५ और पूर्वी उपनगर में ४ वार्ड बढ़ाए जाने की संभावना है जबकि मुंबई शहर वार्डों की संख्या बढ़ाने का कोई प्रस्ताव फिलहाल नहीं है।
राज्य सरकार के अध्यादेश पर राज्यपाल की मंजूरी के बाद मनपा वार्डों में नया परिसीमन किया जाएगा। दो वार्डों को काट कर भी तीसरे वार्ड का निर्माण होगा। बाद में मनपा इसे राज्य चुनाव आयोग को भेजेगी। चुनाव आयोग सजेशन-ऑब्जेक्शन कमेटी बनाकर इस पर लोगों की राय लेगी। उसके बाद चुनाव आयोग अंतिम निर्णय लेगा।
नियमानुसार ५० हजार की आबादी को ध्यान में रखकर नया वार्ड बनता है। प्रत्येक वार्ड में २५ से ३० हजार मतदाता होने चाहिए। इसके साथ ही वहां स्कूल, कॉलेज, उद्यान, खेल मैदान आदि नियमों का पालन भी जरूरी है।


लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay