भाजपा नेता ने स्वास्थ्य विभाग भर्ती परीक्षा पर्चा लीक मामले की न्यायिक जांच की मांग की

भाजपा नेता ने स्वास्थ्य विभाग भर्ती परीक्षा पर्चा लीक मामले की न्यायिक जांच की मांग की

मुंबई : भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधान पार्षद गोपीचंद पडलकर ने महाराष्ट्र स्वास्थ्य विभाग की भर्ती परीक्षा के दौरान कथित पर्चा लीक मामले की न्यायिक जांच कराने की शुक्रवार को मांग की। इस मामले में अब तक 12 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। पडलकर ने वीडियो संदेश में कहा, ''कथित पर्चा लीक मामले की जांच के दौरान मंत्रालय के कुछ अधिकारियों की भूमिका का खुलासा हुआ है। जालना जिले (राज्य के स्वास्थ्य मंत्री का गृह जिला) के कुछ अधिकारियों से भी पूछताछ की जा रही है। मामले की न्यायिक जांच की जरूरत है, जिसमें राज्य के स्वास्थ्य मंत्री भी शामिल हों। हम मौजूदा जांच से संतुष्ट नहीं हैं।''
हालांकि उन्होंने राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे का नाम नहीं लिया। भाजपा ने कहा, ''अगर राज्य सरकार हमारी मांग को नजरअंदाज करती है तो हम मामले को सीबीआई के पास ले जाएंगे। इस परीक्षा को लेकर कई सवाल उठ रहे हैं कि पर्चा कैसे लीक हुआ। हम जवाब चाहते हैं।'' उन्होंने आरोप लगाया कि पर्चा लीक होने के पीछे राज्य सरकार का ही हाथ हो सकता है। कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के दौरान चिकित्सा कर्मचारियों की कमी का सामना करने के बाद राज्य सरकार ने स्वास्थ्य विभाग में सभी आवश्यक पदों को भरने की घोषणा की थी। हालांकि पर्चा लीक, परीक्षा हॉल टिकट जारी न करने और गलत प्रश्न पत्र सामने आने के बाद यह पूरी कवायद विवादास्पद हो गई।


लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay