सेल्फ किट से बढ़ा खतरा, मुंबई की मेयर ने दिए बैन करने के संकेत

सेल्फ किट से बढ़ा खतरा, मुंबई की मेयर ने दिए बैन करने के संकेत

महाराष्ट्र : महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है. लगातार 40 हजार से ज्यादा कोरोना केस सामने आ रहे हैं. इन 40 हजार में से रोज 20 हजार से अधिक केस अकेले मुंबई में सामने आ रहे हैं. महाराष्ट्र में कुल कोरोना संक्रमितों में से आधे मरीज मुंबई में ही मौजूद हैं. इसकी एक नई वजह अब सामने आई है. मुंबई में लोग कोविड सेल्फ टेस्ट किट का इस्तेमाल कर रहे हैं और कोरोना टेस्ट अब अपने-अपने घरों में ही कर रहे हैं. कोरोना टेस्ट करवाने के लिए वे लैब तक नहीं आ रहे हैं. इस वजह से अब इस पर मुंबई महानगरपालिका बैन लगाने की योजना बना रही है. मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर ने इसके संकेत दिए हैं.
कोरोना सेल्फ टेस्ट किट्स को लेकर समस्या यह है कि इनकी रिपोर्ट पर पूरी तरह से निर्भर नहीं रहा जा सकता. ये हमेशा सही रिपोर्ट ही दें, इसकी कोई गारंटी नहीं है. लोग घरों में ही कोरोना जांच कर रहे हैं. इससे उनके संक्रमित होने की जानकारी बीएमसी को नहीं मिल पा रही. ऐसे में शहर में कोरोना संक्रमितों के वास्तविक आंकड़े सामने नहीं आ पा रहे हैं. इन्हीं समस्याओं पर बात करते हुए रविवार को मेयर किशोरी पेडनेकर ने कहा कि जल्दी ही मुंबई में इन सेल्फ टेस्ट किट्स को बैन किया जा सकता है.
मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर ने मुंबईकरों से अपील की है कि वे सेल्फ किट का इस्तेमाल ना करें. लैब में जाकर कोरोना टेस्ट करवाएं. किसी भी कंपनी के टेस्ट किट्स का इस्तेमाल सही नहीं है. उन्होंने कहा कि, ‘ मैंने कल ही सेल्फ किट पर कार्रवाई करने का आदेश दिया है. बीएमसी ने शनिवार से ही दुकानों में उपलब्ध सेल्फ किट्स को जब्त करने की कार्रवाई शुरू कर दी है. जल्दी ही मुंबई में सेल्फ किट पर पूरी पाबंदी लगाने का प्रस्ताव है.’
बता दें कि मुंबई में पिछले 9 दिनों से कोरोना संक्रमण काफी तेजी से बढ़ा है. पिछले तीन दिनों से कोरोना के 20 हजार से ज्यादा नए केस सामने आ रहे हैं. ऐसे में अगर जो लोग सेल्फ टेस्ट किट की मदद से घर पर ही कोरोना टेस्ट कर रहे हैं, अगर वे भी लैब में कोरोना टेस्ट करवाएं तो कोरोना संक्रमितों की संख्या और कितनी ज्यादा बढ़ कर सामने आएगी, इसका सिर्फ अंदाजा ही लगाया जा सकता है.


लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay