मुंबई में अब तक 12-14 आयु वर्ग के केवल 10% बच्चों को लगी है वैक्सीन

मुंबई में अब तक 12-14 आयु वर्ग के केवल 10% बच्चों को लगी है वैक्सीन

मुंबई : बृहन्मुंबई नगर निगम के आंकड़ों के मुताबिक, 12 से 14 साल के बच्चों के टीकाकरण अभियान को मुंबई में खराब प्रतिक्रिया मिली है. भले ही इस आयु वर्ग के लिए टीकाकरण अभियान लगभग 15 दिन पहले शुरू हुआ हो, लेकिन अब तक इस श्रेणी में लक्षित आबादी के केवल 10 प्रतिशत लोगों को ही कोविड-19 की दवा दी गई है, जैसा कि आंकड़ों से पता चलता है. मुंबई में 12-14 साल की उम्र के करीब 4 लाख बच्चे हैं. नागरिक निकाय के आंकड़ों के अनुसार, अब तक 38,365 बच्चों को टीके की पहली खुराक दी जा चुकी है. देश भर में 12 से 14 साल के बच्चों के लिए टीकाकरण 16 मार्च को शुरू हुआ. स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने कहा कि दैनिक कोविड -19 मामलों में गिरावट के कारण अभियान की प्रतिक्रिया उम्मीद से कम रही है.
बीएमसी के एक अधिकारी ने कहा कि उन्होंने इसके बारे में जागरूकता बढ़ाने के उपाय किए हैं ताकि अधिक से अधिक माता-पिता को आगे बढ़ने और अपने बच्चों को टीका लगवाने के लिए प्रोत्साहित किया जा सके. हैदराबाद की कंपनी बायोलॉजिकल ई की प्रोटीन सब-यूनिट वैक्सीन कॉर्बेवैक्स नाम से 12-14 आयु वर्ग के बच्चों का टीकाकरण किया जा रहा है. मुंबई के निजी अस्पतालों ने पहले टीकों की बर्बादी के डर से 12-14 साल के बच्चों के लिए टीकाकरण अभियान से दूर रहने का फैसला किया था.


लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay