मुंबई में बेस्ट के निजी बस ड्राइवरों की हड़ताल, यात्रियों को हुआ बुरा हाल

मुंबई में बेस्ट के निजी बस ड्राइवरों की हड़ताल, यात्रियों को हुआ बुरा हाल

मुंबई : मुंबई में बेस्ट उपक्रम के वडाला डिपो,  कुर्ला डिपो और  बांद्रा डिपो में बेस्ट के निजी बस ड्राइवरों ने वेतन नहीं मिलने के कारण अचानक हड़ताल शुरु कर दी। इससे सुबह काम पर निकले यात्रियों का बुरा हाल हो गया। बेस्ट प्रशासन का कहना है वेतन नहीं देने वाले ठेकेदार पर कार्रवाई की जाएगी। घाटे में चल रहे बेस्ट उपक्रम को घाटे से उबरने बीएमसी कमिश्नर ने बसों को कांट्रैक्ट पर लेकर चलाने की सलाह दी थी। जिसके बाद से बेस्ट किराए पर मिडी और मिनी बसों का संचालन कर रहा है।

इसके एवज में बेस्ट प्रशासन ठेकेदार को प्रति किमी की दर से पैसा देता है। उसी में ठेकेदार को सीएनजी, ड्राइवरों का वेतन आदि दिया जाता है, लेकिन पिछले पांच महीने से कांट्रेक्टर ने ड्राइवरों को वेतन ही नहीं दिया। जिससे नाराज ड्राइवर सुबह डिपो में काम बंद आंदोलन शुरु कर दिया। बेस्ट प्रशासन का कहना है कि ड्राइवरों को समय पर वेतन नहीं दिए जाने के कारण वे काम बंद आंदोलन की राह चुनी। बेस्ट प्रशासन ने ठेका लेने वाली मारुती कंपनी के अधिकारियों से बात की। कंपनी से बातचीत के बाद हड़ताली ड्राइवरों ने आंदोलन वापस लेते हुए बसों को चलाने का निर्णय लिया। बेस्ट प्रशासन ने कहा कि वह कंपनी के साथ हुए करार के नियमों और शर्तों के अनुसार कार्रवाई करेगी।


लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay