जीएसटी की टीम ने कालबादेवी में आंगड़िया कारोबारी के दफ्तर पर मारा छापा, करोड़ों रुपये नकदी और 20 किलोग्राम चांदी बरामद ...

जीएसटी की टीम ने कालबादेवी में आंगड़िया कारोबारी के दफ्तर पर मारा छापा, करोड़ों रुपये नकदी और 20 किलोग्राम चांदी बरामद ...

मुंबई: महाराष्ट्र में जीएसटी की टीम ने मुंबई के कालबादेवी में एक आंगड़िया कारोबारी के दफ्तर पर छापा मारा। इस कार्रवाई में टीम ने करोड़ों रुपये की नकदी और 20 किलोग्राम चांदी बरामद की है। अधिकारियो के मुताबिक, पहले तो उन्हें कुछ भी संदेहजनक नहीं लगा, लेकिन तभी एक अधिकारी ने दफ्तर की फर्श पर चलना शुरू किया तो उन्हें दाल में कुछ काला लगा। इसके बाद फर्श तोड़ी गई तो सारी पोल खुल गई। अधिकारियों के मुताबिक, आंगड़िया कारोबारी ने जमीन के अंदर कैविटी बनाकर करोड़ों रुपये के नोट और चांदी को छिपा कर रखा था। इस कार्रवाई में अधिकारियों को बोरे में  9.5 करोड़ नकद और 20 किलो चांदी की ईंट मिली हैं। गौरतलब है कि ये पहली बार नहीं है, जब मुंबई के आंगड़िया व्यापारी विवादों में आएं हों, इससे पहले भी आंगड़िया कारोबारी विवादों में रहे हैं।

इससे पहले इनकी तरफ से की गई शिकायत के आधार पर मुंबई पुलिस ने दक्षिण मुंबई के फोफले वाड़ी में आईपीएस अधिकारी सौरभ त्रिपाठी के खिलाफ 10 लाख रुपये की रंगदारी वसूली का मामला दर्ज किया था। दर्ज की गई शिकायत में कहा गया था कि आरोपी अधिकारी ने दिसंबर में कई मौकों पर आयकर विभाग को उनकी नकदी की आवाजाही और कारोबारी गतिविधियों के बारे में सूचना देने की धमकी देकर उनसे कथित तौर पर धन की वसूली की थी। इस मामले में बीते छह अप्रैल को आईपीएम सौरभ त्रिपाठी के जीजा असिस्टेंट सेल्स कमिश्नर आशुतोष कुमार मिश्रा को गिरफ़्तार किया था। वह फरार चल रहे सौरभ त्रिपाठी से लगातार संपर्क में थे। पुलिस इस मामले में सौरभ त्रिपाठी के माता-पिता के घर पर भी छापेमारी कर चुकी है। 



लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay