महाराष्ट्र में लगाया जाए राष्ट्रपति शासनः केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले

महाराष्ट्र में लगाया जाए राष्ट्रपति शासनः केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले

महाराष्ट्र : निर्दलीय सांसद नवनीत राणा और उनके पति रवि णा की गिरफ्तारी के बाद से ही महाराष्ट्र में जमकर हंगामा हो रहा है. इस बीच रायपुर पहुंचे मोदी सरकार के मंत्री रामदास अठावले ने बड़ा बयान दिया है. रामदास अठावले ने महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाए जाने की मांग की है. इस दौरान उन्होंने कई मुद्दों पर भी अपनी राय दी. 

रायपुर में जब केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले से महाराष्ट्र की राजनीति को लेकर सवाल किया तो उन्होंने जवाब देते हुए कहा कि ''महाराष्ट्र में जो परिस्थितियां बनी है, उससे महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगा देना चाहिए. महाराष्ट्र में इन दिनों धर्म-धर्म में संघर्ष की कोशिश हो रही है. अठावले ने कहा कि वह 1-2 दिन में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात कर इस मांग को उठाएंगे. क्योंकि महाराष्ट्र की महाविकास अघाड़ी सरकार कानून व्यवस्था बनाने में सक्षम नहीं रह गई है.'' 

वहीं रामदास अठावले ने महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष राज ठाकरे पर भी निशाना साधा, उन्होंने कहा कि ''महाराष्ट्र में विवाद राज ठाकरे के संरक्षण में हो रहा है. राज ठाकरे ने ही विवाद की शुरुआत की है. मंदिर और मस्जिद का विवाद नहीं होना चाहिए, क्योंकि हम जिस देश में रहते हैं, वह संविधान के हिसाब से चलता है. भीमराव अंबेडकर द्वारा बनाया गया संविधान इस देश में सर्वोपरि है. संविधान के हिसाब से हर व्यक्ति को हर तरह की आजादी भी है.'' 

रामदास अठावले छत्तीसगढ़ के दौरे  पर थे, जहां उन्होंने रायपुर और दुर्ग का दौरा किया, बता दें कि मोदी सरकार में मंत्री रामदास अठावले आरपीआई पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं, वह महाराष्ट्र से आते हैं, अठावले को देश में बड़े दलित नेता के तौर पर जाना जाता है. वह अपने बयानों से अक्सर चर्चा में रहते हैं.


लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay