मुंबई के दिंडोशी इलाके में कचरे के ढेर में पुलिस ने ढूंढा लाखों के गहने से भरी थैली... सीसीटीवी से पुलिस को मिली मदद

मुंबई के दिंडोशी इलाके में कचरे के ढेर में पुलिस ने ढूंढा लाखों के गहने से भरी थैली... सीसीटीवी से पुलिस को मिली मदद

मुंबई : मुंबई के दिंडोशी इलाके में एक विचित्र मामला सामने आया है, जहां सोने के गहने से भरी थैली को ढूंढने में एक चूहे ने पुलिस की मदद करते हुए उन्हें रास्ता दिखाया और पुलिस ने उस थैली को ढूंढ कर उसकी मालकिन को सौंप दिया। बता दें कि कचरे के ढेर से मिले 10 तोला सोना की कीमत करीब 5 लाख रुपए है। गौरतलब है कि दिंडोशी पुलिस स्टेशन की हद में रहने वाली सुंदरी प्लानिबेल (44) बेटी की शादी के कर्ज को चुकता करने के लिए वह घर में रखे 10 तोले सोने के गहने बैंक में गिरवी रखने जा रही थी। रास्ते मे जाते समय सुंदरी को एक भिखारी महिला और उसका बच्चा दिखाई दिया, सुंदरी ने अपने पास थैली में रखे हुए कुछ वड़ापाव उस बच्चे को देकर चली गई, लेकिन जब सुंदरी बैंक पहुची तब उसे पता चला कि वह जिस वडा पाव की थैली को बच्चे को दी थी, उसी में सोने के गहने भी रखी थी। सुंदरी तुरंत बैंक से निकलकर उस स्पॉट पर गई जहां वह भिखारी को वडा पाव की दी थी, लेकिन जब वह लौटकर आई तो वहां नहीं मिली, सुंदरी ने तुरंत इसकी सूचना दिंडोशी पुलिस को दी। 

सीसीटीवी की मदद से पुलिस ने भिखारी को ढूंढ निकाला, लेकिन थैली उसके पास भी नहीं थी। पूछने पर भिखारी ने पुलिस को बताया कि वडा पाव सूखा होने के कारण वह उसे कचरे के ढेर में थैली के साथ फेंक दिया था। दिंडोशी पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक जीवन खरात ने बताया कि पुलिस को तो पहले सफलता नहीं मिली, लेकिन सीसीटीवी में दिखा की जिस कचरे की थैली की तलाश पुलिस कर रही है वह एक चूहे के कब्जे में है। दरअसल एक चूहा उस थैली में घुसकर उसमें रखे वडा पाव को खा रहा था और इधर-उधर घूम रहा था। पुलिस ने उस चूहे का पीछा किया, तब तक चूहा उस थैली को लेकर पास की गटर में घुस गया, पुलिस  ने थैली को गटर के अंदर घुसकर निकाला जिसमे सोने के गहने पड़े मिले।



लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay