नूपुर शर्मा के विवादित बयान : इस्लामिक स्टेट की फिदायीन हमले की धमकी...

नूपुर शर्मा के विवादित बयान : इस्लामिक स्टेट की फिदायीन हमले की धमकी...

मुंबई : हर हाल में हर चुनाव जीतने की जिद में भाजपाइयों द्वारा थोपा जा रहा नव हिंदुत्व अब देश के लिए घातक सिद्ध होने लगा है। हिंदू वोटों के ध्रुवीकरण की मंशा से नव हिंदुत्ववादी भाजपा, उसके सहयोगी संगठन, ‘बी’, ‘सी’ पार्टियां और सुपारीबाज एजेंट कभी हिजाब, कभी हलाल, कभी मस्जिदों के भोंगे बनाम हनुमान चालीसा तो कभी देश की ४० हजार से अधिक मस्जिदों के मंदिर होने का दावा करके देश को दंगे की आग में झोंकने का प्रयास करते रहे हैं। इन प्रयासों को हवा देने की ऐसी ही एक कोशिश के दौरान आवेश में आई भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा और दिल्ली के भाजपाई नेता नवीन जिंदल ने पैगंबर मुहम्मद की शान में कुछ विवादित बातें कर दीं। इसका हिंदुस्थान सहित पूरी दनिया के मुसलमान विरोध कर रहे हैं। इस्लामिक और खासकर खाड़ी देशों के साथ-साथ अमेरिका, इंग्लैड और चीन तक इस पर अपना विरोध दर्ज करा चुके हैं। यहां तक तो ठीक था लेकिन तालिबान द्वारा निंदा किए जाने के बाद अब अलकायदा और इस्लामिक इस्टेट (आइसिस) जैसे वैश्विक आतंकी संगठन हिंदस्थान में फिदायीन हमलों की धमकी देने लगे हैं। आइसिस ने तो यहां तक चेतावनी दे दी है कि अब उसके फिदायीन हिंदुस्थान में हिंदुओं और सिखों को आत्मघाती हमलों में निशाना बनाएंगे। वे सीने पर बम बांध कर भीड़ में घुसेंगे और फट जाएंगे। बता दें कि इस्लामी आतंकी संगठन की दक्षिण-पूर्व और मध्य एशिया की विंग आईएसकेपी ने १० मिनट का एक वीडियो रिलीज किया है। इस वीडियो में ईशनिंदा और दिल्ली के जहांगीरपुरी में एक मस्जिद के अवैध हिस्से को ध्वस्त किए जाने को लेकर हिंदुओं पर हमला करने की धमकी दी गई है। इस्लामिक स्टेट खुरासान प्रांत ने अपने मुखपत्र अलअजैम फाउंडेशन के जरिए एक समाचार बुलेटिन सेवा आरंभ की है। पहला समाचार बुलेटिन हिंदुस्थान और ईशनिंदा के मुद्दे पर केंद्रित है।’ इस्लामी आतंकी संगठन ने इस प्रोपेगेंडा वीडियो में एक भारतीय फिदायीन को भी दिखाया है। वीडियो में इस फिदायीन हमलावर का नाम केपी इजास बताया गया है।

गौरतलब हो कि नूपुर शर्मा के विवादित बयान पर पाकिस्तान समर्थित इस्लामी आतंकी संगठन अल कायदा ने पहले ही ६ जून को धमकीभरा पत्र जारी करते हुए कहा था कि वह ‘पैगंबर के सम्मान के लिए लड़ने’ के लिए दिल्ली, मुंबई, उत्तर प्रदेश और गुजरात में फिदायीन हमले करेगा। अल कायदा की आधिकारिक वेबसाइट पर कहा गया था कि `भगवा आतंकियों को अब दिल्ली, मुंबई, यूपी और गुजरात में अपने अंत की प्रतीक्षा करनी चाहिए। इसी के साथ १० जून को प्रयागराज, सहारनपुर सहित देश में हुए विरोध प्रदर्शन के बाद यूपी के मुसलमानों को अलकायदा में भर्ती करने की कवायद भी तेज हो गई है। अल कायदा के मुखिया जवाहिरी ने दुनिया भर के मुसलमानों के नाम एक कट्टर संदेश जारी किया है। अपने वीडियो संदेश में जवाहिरी ने कहा है कि मुसलमान सुन्नी जिहादियों को अपना रोल मॉडल मानें। अलकायदा, जिसका मीडिया विंग पाकिस्तान में स्थित है, अपने वैश्विक अभियानों के लिए आतंकवादी वैâडरों की भर्ती कर रहा है। उसे कतर, तुर्किए और मध्य-पूर्व के देशों से फंडिंग मिल रही है।


लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay