मीनू मुमताज ४० ५० के दशक की वो एक्ट्रेस जिसे अपने बड़े भाई महमूद के साथ रोमांस कर विवादों का सामना करना पड़ा

मीनू मुमताज ४० ५० के दशक की वो एक्ट्रेस जिसे अपने बड़े भाई महमूद के साथ रोमांस कर विवादों का सामना करना पड़ा

 मीनू मुमताज ४० ५० के दशक की वो एक्ट्रेस जिसे अपने बड़े भाई महमूद के साथ रोमांस कर विवादों का सामना करना पड़ा मीनू मुमताज अपने जमाने के जाने माने एक्टर और डांसर मुमताज अली की बेटी थीं जब मुमताज का करियर शराब की लत से बर्बाद हुआ तो महज १२ साल की उम्र में मीनू ने ७ भाई बहनों की जिम्मेदारी उठाई उनके बाद ही बड़े भाई महमूद ने फिल्मों में एंट्री ली महज १३ साल की उम्र में मीनू को १९५५ की सखी हकीम से फिल्मों में जगह मिल गई १४ साल की उम्र में मीनू ने सीआईडी फिल्म के गाने बूझ मेरा क्या नाम रे से इन्हें पहचान और पॉपुलैरिटी दोनों मिली विवादों में घिर गईं 

१९५८ की फिल्म हावड़ा ब्रिज आते ही मीनू विवादों से घिर गईं दरअसल फिल्म के गाने में मीनू बड़े भाई महमूद के साथ रोमांस करती दिखीं लोगों ने दोनों का विरोध करते हुए आपत्ति जताई कि सगे भाई बहन रोमांस कैसे कर सकते हैं हालांकि समय के साथ विवाद थम गया १९६८ में अली अकबर से शादी के बाद मीनू ने फिल्में छोड़ने का फैसला किया लेकिन उस समय उनकी दो फिल्में जहां आरा और पाल्की अधूरी थीं पालकी फिल्म बनने में पूरे चार साल लगे टोरंटो में बस गईं मीनू शूटिंग के समय मीनू २ बार प्रेग्नेंट हुईं उन्होंने ८ वें महीने की प्रेग्नेंसी में ही फिल्म पूरी की थी फिल्म होते ही मीनू परिवार के साथ टोरंटो जाकर बस गईं २००३ में मीनू की याद्दाश्त जाने के बाद परिवार को पता चला कि उन्हें पिछले १५ सालों से दिमाग में ट्यूमर है भारत में हुए ऑपरेशन में मीनू के दिमाग से ४ इंच का ट्यूमर निकला था जिसके बाद उनकी याद्दाश्त भी वापस आ गई ट्यूमर से ठीक होने के १८ साल बाद २३ अक्टूबर २०२१ को मीनू मुमताज का ७९ साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कहा


लोगसत्ता न्यूज
शिवकुमार सिंह