लॉकडाउन के कारण मुंबई में अपराध दर में भारी कमी

लॉकडाउन के कारण मुंबई में अपराध दर में भारी कमी

मुंबई : कोरोना की दूसरी लहर के चलते राज्य सरकार ने 31 मई तक के लिए लॉकडाउन लगाया है। इस लॉकडाउन के कारण मुंबई में अपराध दर में भारी कमी आई है, लेकिन अपराध दर में कमी आने के बाद भी मुंबई में कोरोना प्रतिबंध का पालन नहीं करने के कारण 16,000 से अधिक अपराध दर्ज किए गए हैं। कोरोना की दूसरी लहर के बाद भी लोगों की लापरवाही बरकरार है। बार-बार चेतावनी के बावजूद जनता कोरोना के चलते लागू प्रतिबंधों को नहीं मान रहे हैं। उत्तर मुंबई में पिछले डेढ़ महीने में सबसे अधिक अपराध दर्ज किए गए, जिसमें 5 अप्रैल से मुंबई में 16,000 से अधिक मामले दर्ज किए गए। पहली लहर के दौरान, मुंबई पुलिस ने 27,000 से अधिक मामले दर्ज किए थे, जबकि दूसरी लहर के बाद मुंबई सहित राज्य सरकार द्वारा राज्यव्यापी कार्रवाई की गई थी। 



लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay