बच्चों की खरीद-बिक्री करने वाली महिला गिरफ्तार

बच्चों की खरीद-बिक्री करने वाली महिला गिरफ्तार

कल्याण : गैरकानूनी रूप से बच्चों को दत्तक लेकर उनकी खरीद-बिक्री करने की घटना प्रकाश में आई है। गरीब मां-बाप को अधिक पैसे का लालच देकर उनके बच्चे को एक दंपति को दिया जा रहा था, ऐसी जानकारी महिला बाल संरक्षण कक्ष तथा कल्याण क्राइम ब्रांच के संज्ञान में आते ही कार्यवाही करते हुए महिला व बच्ची कों बेचने वाले अभिभावकों को गिरफ्तार कर लिया गया। मिली जानकारी के अनुसार डोंबिवली स्थित जननी बाल आशीष बाल सुधार गृह में आया का काम करने वाली मानसी जाधव को गोद लेने वाले दंपतियों का नंबर मिला, जिसके बाद उसने संस्था में नौकरी छोड़ दी तथा जरूरतमंद दंपतियों को बिना कानूनी प्रक्रिया के बच्चों को गोद देना शुरू कर दिया। उल्हासनगर के एक गरीब दंपति को पैसे का लालच देकर उसे बच्चे की बेचने के लिए राजी कर लिया। इसके बाद एक जरूरतमंद दंपति को पांच महीने के बच्चे को 2 लाख में बेचने की बातचीत शुरू कर दी। जब दंपति को यह एहसास हुआ कि गैरकानूनी रूप से बच्चे को गोद दिया जा रहा है तो उसने जिला महिला एवं बाल विकास विभाग में शिकायत की। घटना की गंभीरता को देखते हुए इसकी शिकायत कल्याण क्राइम ब्रांच यूनिट को की गई तथा नकली ग्राहक बनकर कल्याण स्टेशन परिसर में घेरा डाल दिया तथा शनिवार सुबह में नकली ग्राहक से मानसी जाधव तथा बच्चे के मा बाप ने कुल 1 लाख 90 हजार में पांच महीने के बच्चे को बेचते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। जिला महिला एवं बाल विकास अधिकारी महेंद्र गायकवाड़ के मार्गदर्शन में यह कार्यवाही जिला बाल संरक्षण अधिकारी रामकृष्ण रेड्डी व उनके मातहत ने की है। उक्त महिला द्वारा अन्य 2-3 बच्चों की बिक्री की गई है जिसकी पुलिस द्वारा जांच की जा रही है।



लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay