मां-बेटे की मौत की वजह पड़ोसी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

मां-बेटे की मौत की वजह पड़ोसी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

मुंबई, कोरोना महामारी काल और लॉकडाउन में एक तरफ कुछ लोग अपने परेशान पड़ोसियों और दूसरे जरूरतमंदों की दिल-खोल कर मदद करते दिखे तो वहीं पड़ोसियों संवेदनहीनता का एक ऐसा मामला सामने आया जिसके बारे में सुन कर लोग सन्न रह गए। अंधेरी-चांदिवली क्षेत्र में एक 40 वर्षीय महिला ने पहले अपने 10 वर्षीय बेटे को बहुमंजिला इमारत से नीचे फेंक दिया, बाद में वह खुद भी ऊपर से नीचे कूद गई। इस मामले में साकीनाका पुलिस ने मृतका के पड़ोसी को गिरफ्तार किया है, जो कि पेशे से एक पायलट है।
बता दें कि चांदिवली इलाके की एक बहुमंजिला इमारत में संजना (बदला हुआ नाम) दो महीने पहले अपने पति रवि (बदला हुआ नाम) व बेटे विराट (बदला हुआ नाम) के साथ रहने आई थी। उन्होंने इमारत की 12वीं मंजिल पर स्थित एक फ्लैट किराए पर लिया था। लेकिन इमारत की 11 वीं मंजिल पर रहने वाले अल्ताफ (काल्पनिक नाम) के परिवार से संजना के परिवार की पटती नहीं थी। अल्ताफ पेशे एक अंतरराष्ट्रीय विमान कंपनी में पायलट से हैं। उनका परिवार आए दिन पुलिस में संजना के परिवार की झूठी शिकायत करके उन्हें प्रताड़ित करता था। इसी से तंग आकर संजना ने यह अप्रत्याशित कदम उठाया है। इमारत के सुरक्षा रक्षक ने सोमवार की रात ढाई बजे संजना और विराट को इमारत के गार्डन में लहुलुहान अवस्था में पड़ा देखा था। जिसके बाद पुलिस व इमारत के दूसरे रहवासियों को उसने इस घटना की सूचना दी थी। पुलिस को संजना के हाथ में एक सुसाइड नोट मिला है, जिसमें उसने अपनी मौत के लिए अल्ताफ के परिवार को जिम्मेदार ठहराया है।


लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay