जर्जर इमारत का स्लैब गिरने से दो लोगों की मौत

जर्जर इमारत का स्लैब गिरने से दो लोगों की मौत

ठाणे, ठाणे में एक ‘शॉकिंग’ हादसा घटित हुआ है। एक जर्जर इमारत का स्लैब गिरने से दो लोगों की मौत हो गई है। गंभीर रूप से घायल एक अन्य युवक को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसका इलाज चल रहा है। सुरक्षा की दृष्टि से इमारत में रहनेवाले सभी परिवारों को इमारत से हटाकर एक कम्युनिटी हॉल में स्थानांतरित कर दिया गया है। सुरक्षा की दृष्टि से आस पास की सभी तीन इमारतों को सील कर दिया गया है। यह जानकारी मनपा आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा दी गई है।
मिली जानकारी के मुताबिक कल रविवार की सुबह करीब ६ बजे राबोडी के खत्री अपार्टमेंट स्थित रूम नं.३०३ का स्लैब गिरने की सूचना मनपा आपदा प्रबंधन विभाग को मिली थी। यह सूचना मिलते ही पुलिस, दमकल तथा आपदा प्रबंधन विभाग के अधिकारी फौरन मौके पर पहुंचे गए और बचाव कार्य युद्धस्तर पर शुरू कर दिया गया। बचाव दल ने मलबे में दब गए रमीज शेख (३२), गौस बाबूलाल तंबोली (४०) तथा फरहान मो. गौस तंबोली (१०) को बाहर निकाला। गंभीर रूप से घायल तीनों को नजदीक के दो अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया। इलाज के दौरान गंभीर रूप से घायल रमीज तथा गौस की जहां मौत हो गई, वहीं फरहान का इलाज एक निजी अस्पताल में चल रहा है। बता दें कि चार मंजिली खत्री अपार्टमेंट के ‘ए’, ‘बी’ तथा ‘सी’ विंग में ७३ परिवार रह रहे थे। यह इमारत २५ वर्ष पुरानी है। मनपा ने इसे जर्जर घोषित कर रखा है। इस दुर्घटना के बाद सुरक्षा की दृष्टि से सभी इमारतों को सील कर दिया है। सभी ७३ परिवारों को अस्थायी रूप से बगल स्थित अंजुमन-ए -खांदेश कम्युनिटी हॉल एवं मदरसा में स्थानांतरित कर हर तरह की सुविधा उपलब्ध करा दी गई है।
ठाणे मनपा प्रशासन ने बताया है कि खत्री इमारत को खतरनाक घोषित करते हुए वहां के निवासियों को कई बार फ्लैट खाली करने की नोटिस दी जा चुकी है। इसके बावजूद भी रहिवासियों ने इसे गंभीरता से नहीं लिया, परिणामस्वरूप खत्री इमारत दुर्घटना में दो लोगों की जान चली गई।


लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay