ठाणे जिले में पेट्रोल की कीमत को लेकर भाजपा शिवसेना आमने-सामने

ठाणे जिले में पेट्रोल की कीमत को लेकर भाजपा शिवसेना आमने-सामने

कल्याण : ठाणे जिले में पेट्रोल की कीमत 100 रुपए के पार हो गयी है जिससे आम जनता आर्थिक व मानसिक पीड़ा से त्रस्त है। ऐसे में अपने आप को जनता का रहनुमा बताते हुए भाजपा व शिवसेना के नेताओं के द्वारा एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी है। दो दिन पहले ही राकांपा व शिवसेना के द्वारा पेट्रोल की बढ़ी हुई कीमत को लेकर आंदोलन किया गया तो वहीं भाजपा विधायक रविन्द्र चव्हाण ने पत्रकार परिषद आयोजित कर राज्य सरकार पर बढ़ी कीमतों का ठींकरा फोड़ा। केंद्र सरकार द्वारा दिए जा रहे पेट्रोल पर 26 प्रतिशत वैट तथा 10 प्रतिशत अधिभार राज्य सरकार द्वारा लगाया जाता है, पेट्रोल की कीमत बढ़ने पर राज्य सरकार को इस अधिभार को कम करके जनता को राहत देनी चाहिए ऐसी मांग विधायक रविन्द्र चव्हाण ने पत्रकार परिषद के दौरान कही।

ठाणे जिले में पेट्रोल के भाव दिन ब दिन बढ़ते हुए 100 रुपए का आंकड़ा पार कर गया है जिससे आम नागरिक की जेब ढीली हो रही है तथा अब भी ऐसा नही है कि यह कीमत स्थिर होगी या कम की जाएगी जिसके कारण शिवसेना व राकांपा ने जगह जगह इसके विरोध में आंदोलन कर केंद्र सरकार के प्रति निषेध व्यक्त किया है। भाजपा सरकार में पेट्रोल की कीमत 25 रुपए से ज्यादा बढ़ने के बाद भी पेट्रोल कंपनियों पर कोई अंकुश नही लगाया जा रहा है। इसी विषय पर पत्रकार परिषद में बोलते हुए रविन्द्र चव्हाण ने कहा कि 36 प्रतिशत राज्य सरकार द्वारा लिए जाने से पेट्रोल की कीमत बढ़ गयी है जब देवेंद्र फडणवीस मुख्यमंत्री थे उस समय इस दर को उन्होंने कम करके नागरिकों को राहत दी थी, लेकिन वर्तमान सरकार ने अब तक इस पर कोई निर्णय नही लिया है। राज्य सरकार को पिछले वर्ष में पेट्रोल से 16 करोड़ का अधिभार प्राप्त हुआ है अगर इससे नागरिकों को कुछ लाभ दिया जाता तो शासन को कोई फर्क नही पड़ता, ऐसा विधायक ने कहा। विधायक ने कहा कि भाजपा के शासनकाल मे सरकार ने मोठागांव, मानकोली, कल्याण शील रोड़, रिंग रोड, ऐरोली काटई उन्नत मार्ग, कल्याण तलोजा व कल्याण भिवंडी मेट्रो मार्ग समेत कई विकास कार्यों के लिए निधि उपलब्ध कराई लेकिन पिछले कई वर्षों से यह कार्य पूरे नही हुए, उन्होंने सवाल किया है कि यह कार्य कब पूरे होंगे तथा आम आदमी को कब राहत मिलेगी?




लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay