ड्रग्स का कारोबार, ६१३ आरोपियों को किया गिरफ्तार

ड्रग्स का कारोबार, ६१३ आरोपियों को किया गिरफ्तार

वसई-विरार, मीरा-भायंदर से लेकर विरार तक ड्रग्स का कारोबार खूब फल-फूल रहा है। पिछले ९ महीनों में क्षेत्र के विभिन्न थानों में कुल ५१७ मामले दर्ज किए गए हैं और ६१३ आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है।
नशीला पदार्थ विरोधी कार्रवाई के सिलसिले में नशीले पदार्थों से जुड़े कई नाम सामने आए हैं। लिप्त लोगों पर पुलिस कार्रवाई कर रही है। इसी तरह की कार्रवाई के तहत अक्टूबर में एनसीबी और स्थानीय पुलिस ने नशीले पदार्थों के कब्जे, बिक्री और खपत के लिए तीन बड़े ऑपरेशन किए। नालासोपारा में हाल ही में एनसीबी ने एक नाइजीरियाई को गिरफ्तार करके उसके पास से ५०० ग्राम नशीला पदार्थ जब्त किया था। जांच में पता चला है कि आरोपी मुंबई और अन्य उपनगरों में ड्रग्स सप्लाई करने में संलिप्त था। दूसरी ओर नाइजीरियाई लोगों को नायगांव (पूर्व) से दो अलग-अलग अभियानों में पकड़ा गया था। पुलिस वसई इलाके में नाइजीरियाई नागरिकों द्वारा ड्रग्स की आपूर्ति करने के कई मामलों की जांच कर रही है। इनमें से १०९ मामले ड्रग्स की बिक्री करनेवाले से संबंधित हैं। ४०८ अपराध उन लोगों के खिलाफ हैं, जो लोग ड्रग्स का सेवन करते थे। वसई-विरार, नालासोपारा क्षेत्र में बड़ी संख्या में नाइजीरियाई रहते हैं। उनकी हरकतों से शहर में कानून-व्यवस्था को भी खतरा है। इसके लिए पालघर पुलिस ने नशे के कारोबार को रोकने के लिए विदेशियों के लिए अभियान चलाया है, विदेशियों को घर किराए पर देते समय पुलिस स्टेशन में जानकारी देना अनिवार्य कर दिया है। स्थानीय नागरिकों का कहना है कि पुलिस इसी तरह सख्ती करेगी तो नशीले पदार्थों की बिक्री में कमी आने की संभावना है।


लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay