महाराष्ट्र पुलिस का छापा, दो गिरफ्तार

महाराष्ट्र पुलिस का छापा, दो गिरफ्तार

महाराष्ट्र : महाराष्ट्र की पुलिस ने स्थानीय पुलिस के सहयोग से वारिसलीगंज थाना क्षेत्र में छापेमारी कर दो साइबर अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया। घटना मंगलवार की रात वारिसलीगंज के भवानी बिगहा गांव की है। मोबाइल लोकेशन के आधार पर की गयी छापेमारी में भवानी बिगहा गांव के सुरेंद्र प्रसाद के बेटे उदित कुमार और अवधेश कुमार के बेटे जितेंद्र कुमार को गिरफ्तार किया गया। मौके से साइबर ठगी में प्रयुक्त मोबाइल व सिम के अलावा कई अन्य आपत्तिजनक सामान भी बरामद किये गये। दोनों के ऊपर महाराष्ट्र के नासिक स्थित उप नगर थाने में ठगी का मामला दर्ज है। आरोप है कि दोनों ने मोबाइल से संपर्क कर नासिक के एक व्यक्ति से 01 लाख 30 हजार रुपये ठग लिये। छापेमारी में नासिक उपनगर थाना के एसआई महापत अधिनाथ वाटुले के नेतृत्व में आधा दर्जन महाराष्ट्र पुलिस के अधिकारी व जवान तथा स्थानीय पुलिस शामिल थी।
महाराष्ट्र पुलिस के मुताबिक अपराधियों ने वादी को लॉटरी में लग्जरी गाड़ी निकलने का झांसा देकर अपने जाल में फंसाया और कई बार में विभिन्न बैंक खातों में 01 लाख 30 हजार रुपये ट्रांसफर करा लिये। इसके बाद भी और रुपये की मांग करने और गाड़ी नहीं देने पर वादी को उसके ठगी का शिकार होने की आशंका हुई और वह नासिक पुलिस के पास इंसाफ की गुहार लेकर जा पहुंचा। इस मामले में वादी के बयान पर अज्ञात अपराधियों के विरुद्ध नासिक उपनगर थाना में आईपीसी की धारा 420 के तहत कांड संख्या 153/21 दर्ज किया गया। मामले की जांच कर रही पुलिस के पास घटना का एक मात्र साक्ष्य मोबाइल नंबर था। मोबाइल नंबर के जरिये लोकेशन के आधार पर अपराधियों का पीछा करते हुए पुलिस वारिसलीगंज पहुंची।
मामले की जांच कर रही महाराष्ट्र पुलिस के मुताबिक इस मोबाइल नंबर के जरिये अपराधियों ने देश के कई राज्यों में लाखों की धोखाधड़ी है। प्रथम दृष्टया जांच में कई राज्यों में धोखाधड़ी में इन अपराधियों की संलिप्तता उजागर हुई है। इन अपराधियों की तलाश दूसरे राज्यों की पुलिस को भी है। पुलिस ने बताया कि अन्य राज्यों की पुलिस इन अपराधियों को अपने-अपने मामले में रिमांड करेगी। फिलहाल महाराष्ट्र पुलिस नवादा कोर्ट से रिमांड पर दोनों अपराधियों को लेकर महाराष्ट्र रवाना हो गयी।



लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay