भा रही हैं बच्चों को मनपा स्कूलों में आधुनिक पढ़ाई

भा रही हैं बच्चों को मनपा स्कूलों में आधुनिक पढ़ाई

मुंबई, मुंबई मनपा स्कूलों में आधुनिक पढ़ाई और मिल रही गुणवत्तापूर्ण सुविधाएं बच्चों को भा रही हैं। ऐसे में मनपा स्कूलों में एडमिशन के लिए अभिभावकों में होड़ मची हुई है। आलम यह है कि बीते १५ दिनों में विभिन्न माध्यमों के स्कूलों में करीब ३५,००० विद्यार्थियों का एडमिशन उनके अभिभावकों ने कराया है। मनपा स्कूलों में छात्रों की संख्या में तेजी से हो वृद्धि केवल पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे की संकल्पना के कारण ही हो रही है। नतीजतन मनपा स्कूलों में विद्यार्थियों की संख्या ३.३३ लाख पर पहुंच गई है। हालांकि शिक्षा विभाग `मिशन एडमिशन, एक लक्ष्य एक लाख’ मुहिम को लगातार जारी रखे हुए है।
उल्लेखनीय है कि मनपा स्कूलों में पढ़नेवाले छात्रों को शिक्षा विभाग की तरफ से २७ तरह के शिक्षा साहित्य नि:शुल्क मुहैया कराया जाता है। इसके बावजूद पिछले कुछ सालों से अंग्रेजी माध्यम के स्कूलों की तरफ अभिभावकों का झुकाव बढ़ गया था। परिणामस्वरूप पिछले कुछ समय से मनपा स्कूलों में छात्रों की संख्या कम होती जा रही थी, जिसे रोकना शिक्षा विभाग के लिए किसी चुनौती से कम नहीं था। पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे की संकल्पना के तहत किए गए कई बदलाव के कारण एक बार फिर से मनपा स्कूलों में छात्रों की संख्या तेजी से बढ़ने लगी है।
मनपा शिक्षा विभाग के आयुक्त अजीत कुमार ने बताया कि मनपा स्कूलों में कई अत्याधुनिक उपक्रम लागू किए जा रहे हैं। इनमें वर्चुअल क्लास रूम, मुफ्त टैब, नि:शुल्क बेस्ट बस यात्रा आदि सुविधाओं का समावेश है। इतना ही नहीं शिक्षा विभाग ने अपने छात्रों को विश्व स्तर पर आयोजित होने वाली प्रतियोगिताओं में शामिल करने के लिए कैम्ब्रिज, आईसीएसई और सीबीएसई बोर्ड के स्कूल शुरू किए हैं। वर्तमान में मनपा के आठ माध्यमों के स्कूलों से छात्रों को शिक्षा दी जा रही है। इन उपक्रमों के चलते दो वर्षों में दसवीं का परीक्षा परिणाम ५४ फीसदी से बढ़कर ९१ फीसदी पर पहुंच गया है। मनपा से मिलनेवाली शिक्षा और सुविधाओं के चलते कोरोना काल में भी करीब ३० हजार विद्यार्थी बढ़े, जबकि १५ दिनों में ही विद्यार्थियों की संख्या ३५ हजार बढ़ी है।
मनपा शिक्षा विभाग के मुताबिक अंग्रेजी माध्यम के स्कूलों में १४,०००, मराठी माध्यम के स्कूलों में ८,०००, हिंदी माध्यम के स्कूलों में ६,९०० और उर्दू माध्यम स्कूलों में ६,००० छात्रों की संख्या बढ़ी है। बता दें कि मनपा के कुल ३,४२० स्कूल है। फिलहाल छात्रों की संख्या ३.३३ लाख पर पहुंच गई है।


लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay