परमबीर से सीआईडी की पूछताछ,वसूली सहित तीन मामले की होगी जांच

परमबीर से सीआईडी की पूछताछ,वसूली सहित तीन मामले की होगी जांच

मुंबई, पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह महाराष्ट्र अपराध विभाग यानी सीआईडी की रडार पर है। सिंह पिछले सात महीने से फरार थे, जो गत गुरुवार को अचानक मुंबई क्राइम ब्रांच पहुंचे गए। सिंह के खिलाफ मुंबई सहित ६ मामले दर्ज है, जिनमें तीन मामले की जांच सीआईडी कर रही है। पुलिस के मुताबिक पूर्व कमिश्नर को आज सीआईडी के सामने उपस्थित होना है, वहीं सीआईडी भी सवालों के जाल में परमबीर सिंह को बुनने की तैयारी कर ली है।
सीआईडी सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक सिंह सोमवार व मंगलवार को नई मुंबई के बेलापुर स्थित सीआईडी कार्यालय में मौजूद होंगे और सीआईडी के सवालों का जवाब देंगे। तीन अलग-अलग मामलों की जांच कर रहे सहायक पुलिस आयुक्त स्तर के अधिकारी सिंह से लंबी पूछताछ करेंगे। सूत्रों के अनुसार यह पूछताछ दो से तीन दिन तक चल सकती है। सीआईडी के अतिरिक्त महानिदेशक रितेश कुमार के मार्गदर्शन व पुलिस अधीक्षक एमएन जगताप की निगरानी में पूरी जांच व पूछताछ की जाएगी।
परमबीर सिंह के खिलाफ सीआईडी जिन तीन मामलों की जांच कर रही है। उसमें दो मामले उगाही से जुड़े है। जबकि एक मामला जाति उत्पीड़न से जुड़ा है। जिसे पुलिस निरीक्षक भीमाराव घाडगे ने तब दर्ज कराया था, जब वे अकोला में तैनात थे। वही श्यामसुंदर अग्रवाल ने मरीन ड्राइव पुलिस स्टेशन में सिंह व अन्य के खिलाफ वसूली की शिकायत दर्ज कराई है, जिसमें पुलिस निरीक्षक नंदकुमार गोपाले और आशा कोर्वेâ को गिरफ्तार किया है। ठाणे के कोपरी पुलिस स्टेशन में वसूली का एक और मामले की जांच सीआईडी करेगी। फिलहाल परमबीर सिंह को सुप्रीम कोर्ट ने गिरफ्तारी से अस्थायी संरक्षण दिया है।


लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay