भिवंडी में ‘ब्लैक फंगस’ से हुई पहली मौत, कोविड निगेटिव थी महिला

भिवंडी में ‘ब्लैक फंगस’ से हुई पहली मौत, कोविड निगेटिव थी महिला

ठाणे, महाराष्ट्र जिले के भिवंडी शहर में स्थानीय नगर निगम की एक महिला सफाई कर्मचारी की ‘ब्लैक फंगस’ से मौत हो गई. भिवंडी में इस बीमारी से मौत का यह पहला मामला है.
भिवंडी निजामपुर नगर निगम (बीएनसीएमसी) के चिकित्सा अधिकारी डॉ. के. आर खरात ने मंगलवार को बताया कि महिला कोरोना वायरस से संक्रमित नहीं थी, लेकिन उन्हें शुगर और हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत थी.
उन्होंने बताया कि 44 वर्षीय महिला में हाल ही में ‘ब्लैक फंगस’ के लक्षण दिखने शुरू हुए थे. उन्हें पहले ठाणे के नगर निगम अस्पताल में भर्ती कराया गया और फिर बेहतर इलाज के लिए मुंबई के जेजे अस्पातल में भर्ती कराया गया. लेकिन उनकी हालत लगातार बिगड़ रही थी, जिस कारण उन्हें सेंट जॉर्ज अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा, जहां मंगलवार तड़के उन्होंने दम तोड़ दिया.
उधर केंद्रीय मंत्री सदानंद गौड़ा ने सोमवार को कहा कि सरकार ने राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों तथा केंद्रीय संस्थानों को ब्लैक फंगस संक्रमण के इलाज में काम आने वाली दवाई लिपोसोमल एंफोटेरिसिन-बी की अतिरिक्त 1,06,300 शीशियां आवंटित की है. इस दवाई का इस्तेमाल म्यूकोर्मिकोसिस के इलाज के लिए किया जाता है. इस बीमारी को ब्लैक फंगस भी कहा जाता है और इसमें नाक, आंखों जैसे अंगों के साथ ही कभी-कभी मस्तिष्क को भी नुकसान पहुंचता है.


लोगसत्ता न्यूज
Anilkumar Upadhyay